पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

विश्व

तालिबान समर्थक शफीकुर्रहमान के विरुद्ध राष्ट्रद्रोह का मुकदमा दर्ज

WebdeskAug 18, 2021, 12:40 PM IST

तालिबान समर्थक शफीकुर्रहमान के विरुद्ध राष्ट्रद्रोह का मुकदमा दर्ज


सपा सांसद शफीकुर्रहमान ने तालिबान का समर्थन किया था. इस मामले को लेकर जनपद संभल के कोतवाली थाना में  शफीकुर्रहमान के विरुद्ध राष्ट्रद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया है. सपा सांसद पहले भी इस तरह के विवादित बयान देते रहे हैं. 


 

पुलिस ने बताया कि " सांसद  शफीकुर्रहमान के खिलाफ तहरीर दी गई थी कि उन्होंने तालिबान का समर्थन किया है. तालिबान की तुलना भारत के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों से किया है. इस प्रकार के विवादित बयान के कारण तहरीर में राष्ट्रद्रोह का आरोप लगाया गया. तहरीर के आधार पर राष्ट्रद्रोह की धारा में  मुकदमा दर्ज किया गया. 

 

उल्लेखनीय है अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्जा हो जाने के बाद सांसद शफीकुर्रहमान  ने कहा था कि "अफगानिस्तान में अमेरिका की बादशाहत क्यों?  तालिबान, अफगानिस्तान की ताकत  है. तालिबान ने अमेरिका और रूस को वहां पर ठहरने नहीं दिया. तालिबान के नेतृत्व में अफगान के लोग आजादी चाहते हैं.  तालिबान, अफगानिस्तान को आजाद कर उसे अपने अनुसार चलाना चाहता है, यह उसका आंतरिक मामला है.”

भाजपा  प्रवक्ता मनीष शुक्ल ने सपा सांसद के रवैये पर आपत्ति जताते हुए कहा कि लोकतांत्रिक प्रक्रिया ही सत्ता हस्तांतरण का सबसे अच्छा तरीका है.तालिबान की किसी भी सभ्य समाज में प्रशंसा नहीं की जा सकती. जिस तरह का दृश्य  अफगानिस्तान में इस समय है. वह अत्यंत डरावना है

Comments

Also read: सार्क से क्यों न तालिबान के मित्र पाकिस्तान को किया जाए बाहर ..

टेलीकास्ट दोहराएं: एक नरसंहार को स्वतंत्रता का संघर्ष बताने के ऐतिहासिक झूठ से हटेगा पर्दा।

टेलीकास्ट दोहराएं: एक नरसंहार को स्वतंत्रता का संघर्ष बताने के ऐतिहासिक झूठ से हटेगा पर्दा। सुनिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और मा. जे. नंदकुमार को कल सुबह 10 बजे और सायं 5 बजे , फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब समेत अन्य सोशल मीडिया मंच पर।

Also read: भारत की तरक्की में सहयोग को तैयार अमेरिकी कंपनियां, निवेशकों के लिए बताया भारत को अनु ..

लड़कियों के स्कूल पर फोड़े बम, तालिबान से शह पाकर पाकिस्तान में भी लड़कियों की पढ़ाई पर नकेल कसना चाहते हैं जिहादी
चीनी हैकरों के निशाने पर भारत के मीडिया समूह, अमेरिकी साइबर सुरक्षा कंपनी ने किया दावा

शरिया राज में रौंदा गया मीडिया, 150 से ज्यादा अफगानी मीडिया संस्थानों पर लटका ताला

  अफगानिस्तान के 20 प्रांतों में 150 से ज्यादा मीडिया संस्थानों को अपने दफ्तर बंद करने पड़े हैं। वे अब न खबरें छापते हैं, न चैनल चलाते हैं   अफगानिस्तान बीते एक महीने के मजहबी उन्मादी तालिबान लड़ाकों के आतंकी राज में देश के 150 से ज्यादा मीडिया संस्थानों पर ताले लटक चुके हैं। उनके पास इतना पैसा नहीं रहा कि वे अपना काम चलाते रहें। तालिबान लड़ाकों की 'सरकार' ने आते ही सूचना के अधिकार की चिंदियां बिखेर दीं यानी 'सरकार' कब, क्या, कैसे कर रही है यह किसी को जान ...

शरिया राज में रौंदा गया मीडिया, 150 से ज्यादा अफगानी मीडिया संस्थानों पर लटका ताला