पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

विश्व

पाकिस्तानी कब्जे वाले भारत के जम्मू-कश्मीर में सुल्तान महमूद को बना दिया गया 'राष्ट्रपति', पहले रह चुके हैं 'प्रधानमंत्री'

WebdeskAug 26, 2021, 12:00 AM IST

पाकिस्तानी कब्जे वाले भारत के जम्मू-कश्मीर में सुल्तान महमूद को बना दिया गया 'राष्ट्रपति', पहले रह चुके हैं 'प्रधानमंत्री'
सुल्तान महमूद (फाइल चित्र)



भारत की ओर से जुलाई में संपन्न हुए पीओके के विधानसभा चुनावों को ‘दिखावे की कवायद’ ठहराते हुए इस पर तीखी टिप्पणी की गई थी। भारत ने कहा था कि यह चुनाव पाकिस्तान का ‘अपने अवैध कब्जे को छिपाने’ का असफल प्रयास है




वेब डेस्क
भारत के अभिन्न अंग जम्मू-कश्मीर के अपने कब्जे वाले हिस्से में पाकिस्तान की मनमर्जी लगातार जारी है। अब पीओके कहलाए जाने वाले उस हिस्से में जुलाई में चुनाव कराने के बाद, भारत के इस्लामी पड़ोसी ने इलाके के पुराने राजनीतिक सुल्तान महमूद को 25 अगस्त को नए राष्ट्रपति के रूप में शपथ दिला दी है। महमूद को 17 अगस्त को विधानसभा ने इस पद के लिए चुना था। बता दें कि पीओके में सरकार ने 25 जुलाई को चुनाव कराए थे। इन चुनावों में विपक्षी दलों द्वारा प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी पीटीआई पर बड़े पैमाने पर धांधली के दम पर जीतने के आरोप लगाए थे लेकिन इमरान ने सारे आरोपों को अनसुना करते हुए राष्ट्रपति चयन की प्रक्रिया जारी रखी।


महमूद पीओके के 28वें राष्ट्रपति बने हैं। इमरान खान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ ने ही उन्हें इस पद के लिए प्रस्तावित किया था। महमूद के प्रतिद्वंद्वी थे विपक्ष के संयुक्त उम्मीदवार मियां अब्दुल वहीद। वहीद को 16 वोट मिले थे जबकि महमूद ने 34 वोट जीते थे। महमूद अब सरदार मसूद खान की जगह लेंगे। मसूद को कार्यकाल 24 अगस्त को ही पूरा हुआ है।

पीओके में सरकार ने 25 जुलाई को चुनाव कराए थे। इन चुनावों में विपक्षी दलों द्वारा प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी पीटीआई पर बड़े पैमाने पर धांधली के दम पर जीतने के आरोप लगाए थे लेकिन इमरान ने सारे आरोपों को अनसुना करते हुए राष्ट्रपति चयन की प्रक्रिया जारी रखी।


ये वही महमूद हैं जो जुलाई 1996 से जुलाई 2001 तक पीओके के प्रधानमंत्री रह चुके हैं। क्षेत्र के पीटीआई अध्यक्ष महमूद दो विधानसभा क्षेत्र एलए-3, मीरपुर-3 से विधानसभा चुनाव जीते हैं।

उल्लेखनीय है कि भारत की ओर से जुलाई में संपन्न हुए पीओके के विधानसभा चुनावों को ‘दिखावे की कवायद’ ठहराते हुए इस पर तीखी टिप्पणी की गई थी। भारत ने कहा था कि यह चुनाव पाकिस्तान का ‘अपने अवैध कब्जे को छिपाने’ का असफल प्रयास है। भारत ने इस विषय पर अपना दृढ़ रुख दर्शाते हुए अपना कड़ा एतराज दर्ज कराया है। भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने तक बयान जारी करके कहा था कि पाकिस्तान का ‘भारत के इन क्षेत्रों पर कोई अधिकार नहीं है। पाकिस्तान वहां से अपने अवैध कब्जे को खाली करे'।

 

Follow Us on Telegram


 

Comments

Also read: बुर्केमें कैद नारीवादी आजादी ..

Kejriwal के हिंदू आबादी में Haj House बनाने के विरोध में 28 गांवों की खाप पंचायतें

Kejriwal के हिंदू आबादी में Haj House बनाने के विरोध में 28 गांवों की खाप पंचायतें
#Panchjanya #Kejriwal #DelhiHajhouse

Also read: पाकिस्तान के पोसे खालिस्तानी संगठन जड़ें जमा रहे अमेरिका में, हडसन इंस्टीट्यूट की रपट ..

हक्कानी से जान का खतरा जान, मुल्ला बरादर काबुल से गया कंधार
कंधार में तालिबान के विरुद्ध प्रचंड प्रदर्शन, सैन्य बस्तियां खाली करने के फरमान के विरोध में गर्वनर हाउस के बाहर जमा हुए हजारों लोग

बेटे से 'पाकिस्तान जिंदाबाद' का नारा लगवाने वाला गया जेल

  गुरुग्राम के सेक्टर 102 स्थित इंपीरियल गार्डन सोसायटी में अपने पांच साल के बेटे से 'पाकिस्तान जिंदाबाद' का नारा लगवाने वाले अनवर सैयद फैजुल्लाह को जेल भेज दिया गया है। उसकी पत्नी ने उसे बचाने के लिए कहा था कि वह मानसिक रूप से ठीक नहीं है, इसलिए उसने ऐसा किया था, लेकिन वह बात सही नहीं निकली।  गत दिनों गुरुग्राम (हरियाणा) में अपने बेटे से 'पाकिस्तान जिंदाबाद' का नारा लगवाने वाले सैयद फैजुल्लाह को जेल भेज दिया गया है। कुछ दिन पहले ही पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर न् ...

बेटे से 'पाकिस्तान जिंदाबाद' का नारा लगवाने वाला गया जेल