पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

राज्य

मेरठ: अवैध पशु कत्लखाने मामले में हाई कोर्ट ने मांगी रिपोर्ट

WebdeskAug 31, 2021, 12:48 PM IST

मेरठ: अवैध पशु कत्लखाने मामले में हाई कोर्ट ने मांगी रिपोर्ट


इलाहाबाद हाई कोर्ट ने एक जनहित याचिका पर मेरठ प्रशासन और निगम प्रशासन को आदेश दिया है कि क्षेत्र में चल रहे अवैध पशु कत्लखानों को बंद कर हलफनामा दायर करें। हाई कोर्ट ने इस मामले में प्रशासन को एक महीने का समय दिया है।


इलाहाबाद हाई कोर्ट ने एक जनहित याचिका पर मेरठ प्रशासन और निगम प्रशासन को आदेश दिया है कि क्षेत्र में चल रहे अवैध पशु कत्लखानों को बंद कर हलफनामा दायर करें।

हाई कोर्ट ने इस मामले में प्रशासन को एक महीने का समय दिया है। इलाहाबाद हाई कोर्ट ने मेरठ निवासी लोकेश खुराना द्वारा दायर जनहित याचिका की सुनवाई करते हुए मेरठ प्रशासन और नगर निगम प्रशासन को कहा है कि क्षेत्र में यदि पशु कत्ल के अवैध कारखाने चल रहे हैं तो उन्हें तत्काल बन्द करवाए। कोर्ट ने इस मामले में कारवाई कर चार हफ्ते में शपथ पत्र देने को कहा है।

सरकार के मुख्य स्थायी अधिवक्ता मनीष गोयल के मुताबिक इस मामले का परीक्षण करवाया जा रहा है। एक माह बाद की तिथि पर कोर्ट के आदेशों का जवाब दाखिल किया जाएगा।

जानकारी के मुताबिक योगी सरकार ने आते ही गोहत्या और पशु कत्लखानों को प्रतिबंधित कर दिया था, परंतु कई जगहों में आज भी चोरी छिपे अवैध रूप से पशु कत्लखाने चल रहे हैं।

Comments

Also read: मौलाना कलीम के खिलाफ नितिन पंत ने दी तहरीर, कन्वर्ट करके बनाया था अली हसन ..

टेलीकास्ट दोहराएं: एक नरसंहार को स्वतंत्रता का संघर्ष बताने के ऐतिहासिक झूठ से हटेगा पर्दा।

टेलीकास्ट दोहराएं: एक नरसंहार को स्वतंत्रता का संघर्ष बताने के ऐतिहासिक झूठ से हटेगा पर्दा। सुनिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और मा. जे. नंदकुमार को कल सुबह 10 बजे और सायं 5 बजे , फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब समेत अन्य सोशल मीडिया मंच पर।

Also read: चन्नी की सरकार में सिद्धू हैं ‘सरदार’ ..

पंजाब में ही नहीं देश को है 'क्रिप्टो कांग्रेस' से खतरा
दिल्ली दंगा: तीन मामलों में छह आरोपितों-मुहम्मद,परवेज,अशरफ,सोनू,जावेद और आरिफ के खिलाफ कोर्ट ने तय किए आरोप

रुड़की में पकड़ा गया था पाकिस्तानी जासूस,नैनीताल हाई कोर्ट ने सुनाई 7 साल की सजा

उत्तराखंड ब्यूरो   नैनीताल हाई कोर्ट ने 2012 में पकड़े गए आबिद अली को 7 साल की सजा सुनाई है। आबिद अली पाकिस्तानी नागरिक है, जिसे खुफिया एजेंसियों ने गिरफ्तार किया था। नैनीताल हाई कोर्ट ने 2012 में पकड़े गए आबिद अली को 7 साल की सजा सुनाई है। आबिद अली पाकिस्तानी नागरिक है, जिसे खुफिया एजेंसियों ने गिरफ्तार किया था। जानकारी के मुताबिक आबिद पाकिस्तानी नागरिक था। फ़र्ज़ी दस्तावेजों के आधार पर रुड़की में रह रहा था। उसने यहीं की एक महिला को प्रेम जाल में फंसाकर शादी कर ली। इसी सबके बीच ...

रुड़की में पकड़ा गया था पाकिस्तानी जासूस,नैनीताल हाई कोर्ट ने सुनाई 7 साल की सजा