पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

राज्य

उत्तराखंड में बारिश का कहर जारी, धारचूला में बादल फटने से 7 लोगों की मौत

WebdeskAug 30, 2021, 07:41 PM IST

उत्तराखंड में बारिश का कहर जारी, धारचूला में बादल फटने से 7 लोगों की मौत

 


पिछले एक सप्ताह से हो रही पहाड़ों में बारिश से भूस्खलन हादसे रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। सीमावर्ती धारचूला तहसील के जुम्मा गांव में बादल फटने से 7 लोगों की मौत हो गयी है तो वहीं 15 स्थानों पर राष्ट्रीय राजमार्ग बन्द पड़े हैं।


उत्तराखंड ब्यूरो

पिछले एक सप्ताह से हो रही पहाड़ों में बारिश से भूस्खलन हादसे रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। सीमावर्ती धारचूला तहसील के जुम्मा गांव में बादल फटने से 7 लोगों की मौत हो गयी है तो वहीं 15 स्थानों पर राष्ट्रीय राजमार्ग बन्द पड़े हैं। उत्तराखंड में भारी बारिश के दौरान पहाड़ दरकने से पिछले एक हफ्ते में 30 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। भूस्खलन की वजह से 205 स्थानीय सड़के बन्द हैं। चमोली जिले में जोशीमठ से नीति माना बॉर्डर तक जाने वाली सड़क भूस्खलन के कारण पिछले 17 दिनों से बंद है।

पिछली रात जुम्मा गांव में बादल फटने से 5 मकान बह गए, जिसमें 7 लोगों की मलबे में दब कर मौत हो गयी। एसडीआरएफ और एसएसबी के जवानों को राहत के कामों में लगाया गया है।पिथौरागढ़ जिले में बारिश आफत बनकर आयी है। जिलाधिकारी आशीष चौहान ने मौके पर जाकर धटना स्थल का जायजा लिया। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बताया कि मौसम खराब है। ठीक होते ही वे खुद भी मौके पर जाएंगे। उन्होंने सभी जिलाधिकारियों को सख्त हिदायत दी है कि वे मौके पर जाकर सभी सड़कों को तीन दिन में खोलें। उन्होंने बताया कि एसडीआरएफ, और बॉर्डर एरिया में तैनात एसएसबी, आईटीबीपी के जवान भी आपदा प्रभावितों की मदद में लगे हुए हैं।

उत्तराखंड में आज 7वें दिन भी पहाड़ों में कभी तेज़ कभी रुक रुक कर बारिश होती रही। मौसम विभाग ने अभी अगले दो दिन और बारिश का अलर्ट जारी किया हुआ है।
Follow us on:

Comments

Also read: ईसाई न बनने पर छोटे भाई ने बड़े भाई को घर से किया बाहर ..

kannur-university - सावरकर और गोलवलकर के विचारों से क्यों डर रहे हैं वामपंथी?

सावरकर के “हिंदुत्व: कौन एक हिंदू है”, और गोलवलकर के “बंच ऑफ थॉट्स” और “वी ऑर अवर नेशनहुड डिफाइंड”, दीनदयाल उपाध्याय के “एकात्म मानववाद” और बलराज मधोक के “भारतीयकरण: क्या, क्यों और कैसे” जैसे विचारों से वामपंथी शिक्षाविद घबराने लगे हैं...

#kannuruniversity #savarkar #Golwarkar

Also read: झारखंड से योजनाओं का शुभारंभ करने वाले कर्मयोगी ..

बेरोजगारी में सड़कों के गड्ढे गिन रहीं है  मायावती--- सुरेश खन्ना
टिकट चाहिए तो भरिये फार्म, दीजिये 11 हजार का शगुन, कांग्रेस हाई कमान का गजब आदेश

यूपी—दिल्ली में पकड़े गए आतंकियों के घरों तक पहुंची जांच एजेंसियां

पश्चिम उत्तर प्रदेश डेस्क दिल्ली एवं उत्तर प्रदेश से आतंकियों के पकड़े जाने के बाद जांच एजेंसियां आतंकियों के घरों तक पहुंच रही हैं। इसी कड़ी में अमरोहा स्थित गजरौला इलाके के खालीपुर और खुगावली गांवों में सुरक्षा एजेंसियों द्वारा जानकारी जुटाने की खबरे हैं। दिल्ली एवं उत्तर प्रदेश से आतंकियों के पकड़े जाने के बाद जांच एजेंसियां आतंकियों के घरों तक पहुंच रही हैं। इसी कड़ी में अमरोहा स्थित गजरौला इलाके के खालीपुर और खुगावली गांवों में सुरक्षा एजेंसियों द्वारा जानकारी जुटाने की खबरे हैं ...

यूपी—दिल्ली में पकड़े गए आतंकियों के घरों तक पहुंची जांच एजेंसियां