पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

संस्कृति

मथुरा: संघ स्वयंसेवकों ने पूजे कुंड-जलाशय, जल संरक्षण का लिया संकल्प

WebdeskSep 15, 2021, 12:28 PM IST

मथुरा: संघ स्वयंसेवकों ने पूजे कुंड-जलाशय, जल संरक्षण का लिया संकल्प


पश्चिम उत्तर प्रदेश डेस्क


मथुरा में राधा अष्टमी के अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवकों द्वारा कुंड और जलाशयों का पूजन किया गया। पूजन के पीछे उद्देश्य लोगों मे जल संरक्षण के प्रति जागरूकता पैदा करना है।


मथुरा में राधा अष्टमी के अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा कुंड और जलाशयों का पूजन किया गया। पूजन के पीछे उद्देश्य लोगों मे जल संरक्षण के प्रति जागरूकता पैदा करना है। जिले के संघ अधिकारी विजय बंटा ने कहा कि जल कुंड और जलाशय हमारी धरोहर हैं। सालों साल पीढ़ी दर पीढ़ी इनसे हमें निर्मल जल मिला है। इनका संरक्षण बेहद जरूरी है।

    विभाग प्रचारक गोविंद ने इस अवसर पर कहा कि जल ही जीवन है। इस भावना से वैदिक मंत्रोच्चारण से हम सब ने जलाशयों और कुंड का पूजन किया और ये प्रतीकात्मक संदेश दिया है कि नई पीढ़ी जल के महत्व को समझे, इसे संरक्षित करे। संघ ने गोवर्धन स्थित राधा कुंड सहित अन्य कुंड और जलाशयों को संरक्षित करने का संकल्प लिया। 

Comments

Also read: संस्कृति संवाद : रोजगार केन्द्रित प्राचीन अर्थ चिन्तन ..

Kejriwal के हिंदू आबादी में Haj House बनाने के विरोध में 28 गांवों की खाप पंचायतें

Kejriwal के हिंदू आबादी में Haj House बनाने के विरोध में 28 गांवों की खाप पंचायतें
#Panchjanya #Kejriwal #DelhiHajhouse

Also read: अब टोंक के मालपुरा में ‘संपत्ति जिहाद’ ..

हरियाणा में स्‍कूल-कॉलेजों के पाठ्यक्रम का हिस्‍सा बनेगी सरस्‍वती नदी
यूपी के किसान ने उगाया 'ड्रैगन फ्रूट'

एकात्मता के पुजारी श्री नारायण गुरु

सीताराम व्यास   श्री नारायण गुरु के आडम्बर रहित मन्दिरों के निर्माण से सामाजिक बुराइयों में सहज सुधार दिखाई देता है। उन्होंने अपने अनुयायियों को यही शिक्षा दी कि वे अन्य सम्प्रदायों की आलोचना न करें, न ही उनकी भावनाओं को ठेस पहुंचाएं। इसके परिणामस्वरूप उच्च जाति के लोग भी उनके अनुयायी बन कर समाज सुधार में सहभागी बने और अस्पृश्यता विरोधी आन्दोलन चला, जेल भी गये महान संत  श्री नारायण गुरु जैसे समर्पित, त्यागी, बलिदानी समाज-सुधारक की केरल से प्रज्वलित अहिंसक मूक क्रान्ति की ...

एकात्मता के पुजारी श्री नारायण गुरु