पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

चर्चित आलेख

बागपत : मुठभेड़ में गोतस्कर को पुलिस ने मारी गोली, तमंचे, कारतूस और अन्य हथियार भी बरामद

WebdeskSep 14, 2021, 03:52 PM IST

बागपत :  मुठभेड़ में गोतस्कर को पुलिस ने मारी गोली, तमंचे, कारतूस और अन्य हथियार भी बरामद

पश्चिम उत्तर प्रदेश डेस्क


बागपत कोतवाली क्षेत्र में बीती रात पुलिस मुठभेड़ में गोतस्कर के पैर में गोली लगी है। नोमान नाम के इस तस्कर की पुलिस को कई हफ्तों से तलाश थी।



बागपत कोतवाली क्षेत्र में बीती रात पुलिस मुठभेड़ में गोतस्कर के पैर में गोली लगी है। नोमान नाम के इस तस्कर की पुलिस को कई हफ्तों से तलाश थी। बागपत, बिजनौर, शामली जिलों में गोहत्यारे और तस्कर पिछले कुछ समय से सक्रिय हो गए हैं। कई स्थानों पर गोमांस भी बरामद हुआ था। पूछताछ के बाद मेरठ रेंज की पुलिस को बागपत के रहने वाले नोमान की तलाश थी। नोमान पुलिस से बचने के लिए बागपत के पास गन्ने के खेत मे छिपकर कर गोहत्या और गोमांस की बिक्री का कारोबार करने लगा।

मुखबिर की सूचना पर बागपत की पुलिस टीम ने खेत पर छापा मारा तो नोमान ने पुलिस टीम पर फायर झोंक दिया और भाग खड़ा हुआ। जवाब में पुलिस ने भी गोली चलाई। गोली उसके पैर में लगी। पुलिस ने घायल नोमान को गिरफ़्तार करके अस्पताल पहुंचाया और उसके पास से तमंचा कारतूस, खेत में पड़े तेज धारदार हथियार आदि चीजें बरामद की हैं। 
 

Comments

Also read: श्रीनगर में 4 आतंकियों समेत 15 OGW मौजूद, सर्च ऑपरेशन जारी ..

kannur-university - सावरकर और गोलवलकर के विचारों से क्यों डर रहे हैं वामपंथी?

सावरकर के “हिंदुत्व: कौन एक हिंदू है”, और गोलवलकर के “बंच ऑफ थॉट्स” और “वी ऑर अवर नेशनहुड डिफाइंड”, दीनदयाल उपाध्याय के “एकात्म मानववाद” और बलराज मधोक के “भारतीयकरण: क्या, क्यों और कैसे” जैसे विचारों से वामपंथी शिक्षाविद घबराने लगे हैं...

#kannuruniversity #savarkar #Golwarkar

Also read: संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में भारत ने पाकिस्तान सहित OIC को लगाई लताड़ ..

पाकिस्तानी एजेंटों को गोपनीय सूचनाएं दे रहे थे DRDO के संविदा कर्मचारी, पुलिस ने किया गिरफ्तार
IED टिफिन बम मामले में पकड़े गए चार आतंकी, पंजाब हाई अलर्ट पर

उत्तराखंड: उधम सिंह नगर में बढ़ती मुस्लिम आबादी, देवभूमि के स्वरूप को खंडित करने के प्रयास तेज

दिनेश मानसेरा उत्तराखंड स्थित उधमसिंह नगर जिले में हरिद्वार के बाद सबसे तेजी से मुस्लिम आबादी बढ़ रही है। आंकड़ों के मुताबिक उधमसिंह नगर में करीब 7 लाख मुस्लिम आबादी 2022 तक हो जाएगी। राज्य में यूं मुस्लिम आबादी का बढ़ना, देवभूमि के स्वरूप को खंडित करने जैसा हो जाएगा। उत्तराखंड स्थित उधमसिंह नगर जिले में हरिद्वार के बाद सबसे तेजी से मुस्लिम आबादी बढ़ रही है। आंकड़ों के मुताबिक उधमसिंह नगर में करीब 7 लाख मुस्लिम आबादी 2022 तक हो जाएगी। बता दें कि उधमसिंह नगर राज्य का मैदानी जिला है। भगौलिक ...

उत्तराखंड: उधम सिंह नगर में बढ़ती मुस्लिम आबादी, देवभूमि के स्वरूप को खंडित करने के प्रयास तेज