पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

चर्चित आलेख

कश्मीर पर तालिबान का कोई असर नहीं, सेना किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार

WebdeskAug 31, 2021, 02:59 PM IST

कश्मीर पर तालिबान का कोई असर नहीं, सेना किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार


जम्मू—कश्मीर स्थित चिनार कोर के जीओसी लेफ्टिनेंट जनरल डीपी पांडे ने कहा कि अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे का जम्मू-कश्मीर पर कोई असर नहीं होगा। भारतीय सेना हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार है।


जम्मू—कश्मीर स्थित चिनार कोर के जीओसी लेफ्टिनेंट जनरल डीपी पांडे ने बीते रविवार को श्रीनगर में एक खेल कार्यक्रम के दौरान पत्रकारों से बातचीत में कहा कि अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे का जम्मू-कश्मीर पर कोई असर नहीं होगा। भारतीय सेना हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार है। कश्मीर घाटी में सुरक्षा की स्थिति पूरे नियंत्रण में है, इसलिए चिंता की कोई बात नहीं है।

उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि अफगानिस्तान पर तालिबान ने कब्जा कर लिया तो क्या, इसमें चिंता की कोई बात नहीं है। सेना हर किसी से हर तरह की स्थिति से निपटने के लिए तैयार है। उन्होंने कश्मीर के युवाओं को कहा कि वह खेलों की तरफ ध्यान दें। सिर्फ क्रिकेट ही नहीं, बल्कि अन्य खेलों में रुचि रखनी चाहिए। जिस तरह से नीरज चोपड़ा ने देश का नाम एथलेटिक्स में रोशन किया है, उसी तरह से घाटी के युवा भी अन्य खेलों में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करें। 

Comments

Also read: श्रीनगर में 4 आतंकियों समेत 15 OGW मौजूद, सर्च ऑपरेशन जारी ..

kannur-university - सावरकर और गोलवलकर के विचारों से क्यों डर रहे हैं वामपंथी?

सावरकर के “हिंदुत्व: कौन एक हिंदू है”, और गोलवलकर के “बंच ऑफ थॉट्स” और “वी ऑर अवर नेशनहुड डिफाइंड”, दीनदयाल उपाध्याय के “एकात्म मानववाद” और बलराज मधोक के “भारतीयकरण: क्या, क्यों और कैसे” जैसे विचारों से वामपंथी शिक्षाविद घबराने लगे हैं...

#kannuruniversity #savarkar #Golwarkar

Also read: संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में भारत ने पाकिस्तान सहित OIC को लगाई लताड़ ..

पाकिस्तानी एजेंटों को गोपनीय सूचनाएं दे रहे थे DRDO के संविदा कर्मचारी, पुलिस ने किया गिरफ्तार
IED टिफिन बम मामले में पकड़े गए चार आतंकी, पंजाब हाई अलर्ट पर

उत्तराखंड: उधम सिंह नगर में बढ़ती मुस्लिम आबादी, देवभूमि के स्वरूप को खंडित करने के प्रयास तेज

दिनेश मानसेरा उत्तराखंड स्थित उधमसिंह नगर जिले में हरिद्वार के बाद सबसे तेजी से मुस्लिम आबादी बढ़ रही है। आंकड़ों के मुताबिक उधमसिंह नगर में करीब 7 लाख मुस्लिम आबादी 2022 तक हो जाएगी। राज्य में यूं मुस्लिम आबादी का बढ़ना, देवभूमि के स्वरूप को खंडित करने जैसा हो जाएगा। उत्तराखंड स्थित उधमसिंह नगर जिले में हरिद्वार के बाद सबसे तेजी से मुस्लिम आबादी बढ़ रही है। आंकड़ों के मुताबिक उधमसिंह नगर में करीब 7 लाख मुस्लिम आबादी 2022 तक हो जाएगी। बता दें कि उधमसिंह नगर राज्य का मैदानी जिला है। भगौलिक ...

उत्तराखंड: उधम सिंह नगर में बढ़ती मुस्लिम आबादी, देवभूमि के स्वरूप को खंडित करने के प्रयास तेज