पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

चर्चित आलेख

पाकिस्तान के शेख राशिद ने फिर खोला राज, 'हमारे यहां पले-बढ़े, प्रशिक्षण पाए हैं बड़े तालिबान नेता'

WebdeskSep 02, 2021, 06:50 PM IST

पाकिस्तान के शेख राशिद ने फिर खोला राज, 'हमारे यहां पले-बढ़े, प्रशिक्षण पाए हैं बड़े तालिबान नेता'
पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख राशिद


विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा था कि दुनिया को अफगानिस्तान को अनदेखा नहीं छोड़ देना चाहिए, क्योंकि इसके नतीजे खतरनाक होंगे। पीटीआई की बड़बोली नेता, इमरान की पसंदीदा, नीलम इरशाद शेख ने भी हाल में कहा भी था कि कश्मीर तो तालिबान जीतकर पाकिस्तान को देगा

वेब डेस्क
पड़ोसी इस्लामी देश के बड़बोले गृह मंत्री शेख राशिद अहमद ने आतंकवाद को पोस रहे पाकिस्तान की दुनिया के सामने एक बार फिर कलई खोलकर रख दी है। उन्होंने कहा है, 'पाकिस्तान ने एक लंबे वक्त तक तालिबान की चिंता की है, उसकी देखभाल की है। 'हम' चैनल के एक कार्यक्रम में राशिद ने कहा, ‘तालिबान के सभी बड़े नेता पाकिस्तान में ही तो पैदा हुए, पले-बढ़े हैं। हमने उनकी सेवा की है, उन्हें ट्रेनिंग दी है। इतना ही नहीं, कई तालिबान नेता अभी भी पढ़ाई कर रहे हैं।’ राशिद की यह बात पाकिस्तान को लेकर एक बार फिर उन आरोपों की पुष्टि की है कि अफगानिस्तान पर तालिबान के जिहादी कब्जे में पाकिस्तान पूरी तरह से लिप्त रहा है।
गृह मंत्री राशिद ने तालिबान की मदद करने को लेकर पाकिस्तान की दुनिया भर में हो रही फजीहत के संदर्भ में कहा, ‘मुल्ला बरादर तो पाकिस्तान की जेल में ही था। अमेरिका ने हमसे कहा, उसे रिहा करने के लिए।’ उन्होंने आगे कहा, ‘पाकिस्तान-अफगानिस्तान सीमा हम चाहते हैं शांति हो। यह सीमा पाकिस्तान और अफगानिस्तान दोनों के लिए अनुकूल है।’

राशिद ने कहा, ‘तालिबान के सभी बड़े नेता पाकिस्तान में ही तो पैदा हुए, पले-बढ़े हैं। हमने उनकी सेवा की है, उन्हें ट्रेनिंग दी है। इतना ही नहीं, कई तालिबान नेता अभी भी पढ़ाई कर रहे हैं।’ राशिद की यह बात पाकिस्तान को लेकर एक बार फिर उन आरोपों की पुष्टि की है कि अफगानिस्तान पर तालिबान के जिहादी कब्जे में पाकिस्तान पूरी तरह से लिप्त रहा है। राशिद ने तालिबान की मदद करने को लेकर पाकिस्तान की दुनिया भर में हो रही फजीहत के संदर्भ में कहा, ‘मुल्ला बरादर तो पाकिस्तान की जेल में ही था। अमेरिका ने हमसे कहा, उसे रिहा करने के लिए।’

इससे पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने 1 सितम्बर को कहा था कि दुनिया को अफगानिस्तान को अनदेखा नहीं छोड़ देना चाहिए, क्योंकि इसके नतीजे खतरनाक होंगे। कुरैशी ने कहा, ‘इस तरह के कदम के घातक नतीजे होंगे।' यह कोई पहली बार पाकिस्तान के नेताओं ने तालिबान से अपने देश के रिश्तों को स्वीकार नहीं किया था। पीटीआई की बड़बोली नेता, इमरान की पसंदीदा, नीलम इरशाद शेख ने कुछ दिन पहले कहा भी था कि कश्मीर तो तालिबान जीतकर पाकिस्तान को देगा। तालिबान को पाकिस्तान से लगातार मिल रही मदद के बारे में दुनिया को मालूम है, चाहे पाकिस्तान इससे कितना भी इंकार क्यों न करे।

 

Follow Us on Telegram


 

Comments

Also read: बिजनौर से जुड़े हैं कश्मीरी आतंकी के तार? शमीम और परवेज से पूछताछ कर रहीं सुरक्षा एजें ..

टेलीकास्ट दोहराएं: एक नरसंहार को स्वतंत्रता का संघर्ष बताने के ऐतिहासिक झूठ से हटेगा पर्दा।

टेलीकास्ट दोहराएं: एक नरसंहार को स्वतंत्रता का संघर्ष बताने के ऐतिहासिक झूठ से हटेगा पर्दा। सुनिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और मा. जे. नंदकुमार को कल सुबह 10 बजे और सायं 5 बजे , फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब समेत अन्य सोशल मीडिया मंच पर।

Also read: प्रधानमंत्री मोदी के दौरे से पहले सलाहकार भास्कर खुल्बे पहुंचे बद्री-केदारधाम,लिया पु ..

शोपियां: सुरक्षा बलों ने मुठभेड़ में एक आतंकी को मार गिराया, पिस्टल सहित ग्रेनेड बरामद
साड़ी पर औपनिवेशिक शरारत

हिन्दू सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का योगी आदित्यनाथ ने किया अनावरण, कहा- एकजुट रहो, जाति-बिरादरी में न बंटो

पश्चिम उत्तर प्रदेश डेस्क योगी आदित्यनाथ ने ग्रेटर नोएडा में हिन्दू सम्राट मिहिर भोज की विशाल प्रतिमा का अनावरण किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि मिहिर भोज ऐसे हिन्दू सम्राट थे, जिनसे दुश्मन कांपते थे।    मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सम्राट मिहिर भोज ऐसे हिन्दू सम्राट थे, जिनसे दुश्मन कांपते थे। ऐसे महापुरुष को नमन है। उन्होंने कहा जो कौम अपने भूगोल को विस्मृत कर देती है, वह अपने इतिहास की रक्षा भी नहीं कर पाती।      दरअसल, योगी आदित्यनाथ ग्रेटर ...

हिन्दू सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का योगी आदित्यनाथ ने किया अनावरण, कहा- एकजुट रहो, जाति-बिरादरी में न बंटो