पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

चर्चित आलेख

मथुरा: श्रीकृष्ण जन्मभूमि प्रकरण, अगली सुनवाई 15 सितंबर को

WebdeskSep 01, 2021, 04:49 PM IST

मथुरा: श्रीकृष्ण जन्मभूमि प्रकरण, अगली सुनवाई 15 सितंबर को


श्रीकृष्ण जन्म भूमि मामले में मथुरा सिविल जज कोर्ट में सुनवाई की अगली तारीख 15 सितंबर तय की है।



पश्चिम.उ.प्रदेश डेस्क

श्रीकृष्ण जन्म भूमि मामले में मथुरा सिविल जज कोर्ट में सुनवाई की अगली तारीख 15 सितंबर तय की गई है। आज शोक प्रस्ताव की वजह से कोर्ट नहीं लगी। सिविल जज सीनियर डिवीजन की अदालत में 4 दावों पर आज सुनवाई की जानी थी। सिविल जज सीनियर डिवीजन की अदालत में अधिवक्ता महेंद्र प्रताप सिंह, मनीष यादव, सेवायत पवन शास्त्री और अधिवक्ता शैलेंद्र सिंह के अलग-अलग दावों का मामला चल रहा है।

दावों में श्रीकृष्ण जन्मभूमि की 13.37 एकड़ भूमि को मुक्त कराने और शाही ईदगाह मस्जिद को हटाने की मांग की गई है। वादी अधिवक्ता महेंद्र प्रताप सिंह ने आगरा की नगीना मस्जिद से जुड़े सबूत भी कोर्ट में पेश किए थे।

दावों में कहा गया है कि मुगल शासक औरंगजेब द्वारा मंदिर को तोड़कर मस्जिद की सीढ़ियों में विग्रह को दफन कराया था। अधिवक्ताओं ने कोर्ट से यह भी निवेदन किया है कि वैज्ञानिक विधि से लेकर जीपीआर और जिओ रेडियोलोजी सिस्टम से विवादित स्थल की खुदाई की जाए। फिलहाल ये मामला की अगली सुनवाई 15 सिंतबर को होगी।

Comments
user profile image
Anonymous
on Sep 07 2021 17:06:30

तुष्टीकरण कोलकाता एयरपोर्ट के अंदर रनवे के पास एक छोटासा मस्जिद है दिन में दस बारह लोग हक के लिये नमाज आदा करने के लिये आते है इस मस्जिद की वजह से दुसरा रनवे का विस्तार संभव नही हो पा रहा है जो की देश की सुरक्षा से जुड़ा मु्द्दा है।बांग्लादेश थोड़ी दुरी पर है

Also read: श्रीनगर में 4 आतंकियों समेत 15 OGW मौजूद, सर्च ऑपरेशन जारी ..

kannur-university - सावरकर और गोलवलकर के विचारों से क्यों डर रहे हैं वामपंथी?

सावरकर के “हिंदुत्व: कौन एक हिंदू है”, और गोलवलकर के “बंच ऑफ थॉट्स” और “वी ऑर अवर नेशनहुड डिफाइंड”, दीनदयाल उपाध्याय के “एकात्म मानववाद” और बलराज मधोक के “भारतीयकरण: क्या, क्यों और कैसे” जैसे विचारों से वामपंथी शिक्षाविद घबराने लगे हैं...

#kannuruniversity #savarkar #Golwarkar

Also read: संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में भारत ने पाकिस्तान सहित OIC को लगाई लताड़ ..

पाकिस्तानी एजेंटों को गोपनीय सूचनाएं दे रहे थे DRDO के संविदा कर्मचारी, पुलिस ने किया गिरफ्तार
IED टिफिन बम मामले में पकड़े गए चार आतंकी, पंजाब हाई अलर्ट पर

उत्तराखंड: उधम सिंह नगर में बढ़ती मुस्लिम आबादी, देवभूमि के स्वरूप को खंडित करने के प्रयास तेज

दिनेश मानसेरा उत्तराखंड स्थित उधमसिंह नगर जिले में हरिद्वार के बाद सबसे तेजी से मुस्लिम आबादी बढ़ रही है। आंकड़ों के मुताबिक उधमसिंह नगर में करीब 7 लाख मुस्लिम आबादी 2022 तक हो जाएगी। राज्य में यूं मुस्लिम आबादी का बढ़ना, देवभूमि के स्वरूप को खंडित करने जैसा हो जाएगा। उत्तराखंड स्थित उधमसिंह नगर जिले में हरिद्वार के बाद सबसे तेजी से मुस्लिम आबादी बढ़ रही है। आंकड़ों के मुताबिक उधमसिंह नगर में करीब 7 लाख मुस्लिम आबादी 2022 तक हो जाएगी। बता दें कि उधमसिंह नगर राज्य का मैदानी जिला है। भगौलिक ...

उत्तराखंड: उधम सिंह नगर में बढ़ती मुस्लिम आबादी, देवभूमि के स्वरूप को खंडित करने के प्रयास तेज