पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

चर्चित आलेख

भारत ने अफगान नागरिकों के लिए आपातकालीन ई-वीजा की घोषणा की

WebdeskAug 17, 2021, 05:59 PM IST

भारत ने अफगान नागरिकों के लिए आपातकालीन ई-वीजा की घोषणा की


 अफगानिस्तान में तालिबान के एक बार फिर से काबिज होने के बाद वहां स्थिति खराब  है। तालिबान से बचने के लिए लोग अफगानिस्तान छोड़ रहे हैं। ऐसे में भारत ने अच्छे पड़ोसी होने का फर्ज निभाते हुए अफगान नागरिकों के लिए  आपातकालीन ‘ई-वीजा’ देने की घोषणा की है



भारत ने अफगानिस्तान में मौजूदा हालात को देखते हुए मंगलवार को घोषणा की कि वह यहां आने की इच्छा रखने वाले अफगान नागरिकों के लिए एक आपातकालीन ‘ई-वीजा’ जारी करेगा।

किसी भी मजहब और पंथ से जुड़े अफगान नागरिक ‘ई-आपातकालीन एवं अन्य वीजा’ के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इसके बाद उनकी अर्जियों पर विचार किया जाएगा। अफगानिस्तान में तालिबान के सत्ता पर कब्जा जमाने के दो दिन बाद यह घोषणा की गई है।

गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘‘गृह मंत्रालय ने अफगानिस्तान में मौजूदा हालात को देखते हुए वीजा प्रावधानों की समीक्षा की है। भारत में प्रवेश के लिए वीजा अर्जियों पर जल्द फैसला लेने के लिए ‘ई-आपातकालीन एवं अन्य वीजा’ की नई श्रेणी बनाई गई है।’’

अधिकारियों ने बताया कि अफगानिस्तान में भारतीय दूतावास के बंद होने के कारण वीजा के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है। जो लोग यहां वीजा के लिए अर्जी देखें दिल्ली में उन आर्जियों की जांच की जाएगी। शुरुआत में वीजा छह महीने की अवधि के लिए दिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि अर्जियों पर कार्रवाई करते और अफगान नागरिकों को वीजा देते हुए सुरक्षा मुद्दों पर गौर किया जाएगा। अफगान के सभी नागरिक वीजा के लिए आवेदन दे सकते हैं फिर चाहे वह मुसलमान हों, सिख हों या अन्य किसी मत और पंथ के लोग हों।

बता दें कि हजारों अफगान नागरिक सोमवार को काबुल के मुख्य हवाईअड्डे पर उमड़ पड़े थे। उनमें से कुछ तालिबान से बच कर भागने के लिए इतने परेशान थे कि वे सेना के एक विमान पर चढ़ गए और जब उसने उड़ान भरी तो नीचे गिरने के कारण उनकी मौत हो गई। अमेरिकी अधिकारियों ने बताया कि अराजकता की स्थिति में कम से कम सात लोगों की मौत हो गई।

Follow Us on Telegram

 
 

Comments
user profile image
Manish Agrawal
on Aug 27 2021 23:17:52

यह अनुचित निर्णय है।

user profile image
Anonymous
on Aug 18 2021 14:26:22

हिन्दुओ के लिए खतरनाक फेसला है

user profile image
Anonymous
on Aug 18 2021 14:24:36

सरकार बहुत बड़ी गलती कर रहीं हैं वीजा नहीं देना चाहिए उनके साथ मिलकर जेहादी गैंग को बढावा देगे

user profile image
Anonymous
on Aug 17 2021 23:10:33

लगता है तालिबान ममता बनर्जी की नारा से प्रभावित है। 2011 को बंगाल में परिर्वतन के समय ममता जी ने नारा दिया था (बदला नय बदल चाई)मतलब बदला नहीं बदल चाहिए। अब तालिबान भी यही राग अपना रहा है अफगानीयों डरो नही देश में ही रहों अब बदला नही बदली होगा

user profile image
Anonymous
on Aug 17 2021 19:53:50

गलत किया । अखण्ड भारत नहीं तो क्या अखण्ड अफगानिस्तान तो बना ही देंगे

Also read: बिजनौर से जुड़े हैं कश्मीरी आतंकी के तार? शमीम और परवेज से पूछताछ कर रहीं सुरक्षा एजें ..

टेलीकास्ट दोहराएं: एक नरसंहार को स्वतंत्रता का संघर्ष बताने के ऐतिहासिक झूठ से हटेगा पर्दा।

टेलीकास्ट दोहराएं: एक नरसंहार को स्वतंत्रता का संघर्ष बताने के ऐतिहासिक झूठ से हटेगा पर्दा। सुनिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और मा. जे. नंदकुमार को कल सुबह 10 बजे और सायं 5 बजे , फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब समेत अन्य सोशल मीडिया मंच पर।

Also read: प्रधानमंत्री मोदी के दौरे से पहले सलाहकार भास्कर खुल्बे पहुंचे बद्री-केदारधाम,लिया पु ..

शोपियां: सुरक्षा बलों ने मुठभेड़ में एक आतंकी को मार गिराया, पिस्टल सहित ग्रेनेड बरामद
साड़ी पर औपनिवेशिक शरारत

हिन्दू सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का योगी आदित्यनाथ ने किया अनावरण, कहा- एकजुट रहो, जाति-बिरादरी में न बंटो

पश्चिम उत्तर प्रदेश डेस्क योगी आदित्यनाथ ने ग्रेटर नोएडा में हिन्दू सम्राट मिहिर भोज की विशाल प्रतिमा का अनावरण किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि मिहिर भोज ऐसे हिन्दू सम्राट थे, जिनसे दुश्मन कांपते थे।    मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सम्राट मिहिर भोज ऐसे हिन्दू सम्राट थे, जिनसे दुश्मन कांपते थे। ऐसे महापुरुष को नमन है। उन्होंने कहा जो कौम अपने भूगोल को विस्मृत कर देती है, वह अपने इतिहास की रक्षा भी नहीं कर पाती।      दरअसल, योगी आदित्यनाथ ग्रेटर ...

हिन्दू सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का योगी आदित्यनाथ ने किया अनावरण, कहा- एकजुट रहो, जाति-बिरादरी में न बंटो