पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

विश्व

जी-7 के देश करेंगे तालिबान से तालमेल, ब्रिटिश प्रधानमंत्री जॉनसन ने बताया, तैयार हो रहा खाका

WebdeskAug 25, 2021, 12:00 AM IST

जी-7 के देश करेंगे तालिबान से तालमेल, ब्रिटिश प्रधानमंत्री जॉनसन ने बताया, तैयार हो रहा खाका
जी-7 देशों की वर्चुअल बैठक में अपनी बात रखते राष्ट्रपति जो बाइडेन


बैठक के बाद संयुक्त बयान में जी-7 नेताओं ने कहा कि अफगानिस्तान से विदेशियों और पश्चिमी सेना के सहयोगी रहे अफगानी नागरिकों को सुरक्षित निकालना सबसे बड़ी प्राथमिकता बनी हुई है



वेब डेस्क
कल देर शाम हुई जी-7 देशों की अफगानिस्तान और तालिबान पर आपात वेब बैठक के बाद नतीजा निकल कर आया कि आने वाले वक्त में जी-7 देश यानी कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, अमेरिका और ब्रिटेन तालिबान के साथ मिलकर काम करेंगे जिसका बाकायदा एक खाका तैयार किया जाएगा। बैठक के बाद ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने बयान जारी किया। इसके उन्होंने बताया कि जी-7 देशों के नेताओं ने आने वाले वक्त में तालिबान के साथ काम करने हेतु एक खाका तैयार करने पर रजामंदी व्यक्त की है। बैठक के बाद संयुक्त बयान में जी-7 नेताओं ने कहा कि अफगानिस्तान से दूसरे देशों के नागरिकों और अफगानी नागरिकों को सुरक्षित निकालना सबसे बड़ी प्राथमिकता बनी हुई है।

संयुक्त बयान में इशारों में बताया गया है कि अमेरिकी अगुआई वाले नाटो देशों के सैनिकों को 31 अगस्त तक अफगानिस्तान से बाहर करने की तारीख आगे बढ़ाई जा सकती है। जॉनसन ने बताया कि सभी सदस्य देश चाहते हैं कि तालिबान यह गारंटी दे कि जो लोग तय वक्त से बाहर जाकर भी अफगानिस्तान से निकलना चाहेंगे उन्हें सुरक्षित निकलने दिया जाएगा। बयान में कहा गया है कि पहली प्राथमिकता है नागरिकों के साथ ही पिछले 20 साल में पश्चिमी देशों की सेना का सहयोग करने वाले अफगान नागरिकों को सुरक्षित निकालने का रास्ता तैयार करना।


संयुक्त बयान में इशारों में बताया गया है कि अमेरिकी अगुआई वाले नाटो देशों के सैनिकों को 31 अगस्त तक अफगानिस्तान से बाहर करने की तारीख आगे बढ़ाई जा सकती है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने बताया कि सभी सदस्य देश चाहते हैं कि तालिबान यह गारंटी दे कि जो लोग तय वक्त से बाहर जाकर भी अफगानिस्तान से निकलना चाहेंगे उन्हें सुरक्षित निकलने दिया जाएगा। 



इस वर्चुअल बैठक से पहले 20 अगस्त को ही जॉनसन ने इस बात का संकेत दे दिया था कि उनका झुकाव तालिबान के साथ तालमेल करके चलने की ओर है। उन्होंने तब शरणार्थियों को भी पनाह देने की अपील की थी। मीडिया से बात करने हुए जॉनसन का कहना था कि अफगानिस्तान में पुख्ता समाधान के लिए राजनीतिक और कूटनीतिक कोशिशें चल रही हैं। उनका कहना था कि काबुल हवाईअड्डे पर भी हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि ब्रिटेन की सरकार ने पिछले तीन दिनों में अफगानिस्तान से 1,615 लोगों को निकाल चुकी है, इनमें 399 ब्रिटिश नागरिक और उनके परिजन हैं, 320 दूतावास कर्मी और 402 अफगानी नागरिक हैं।

Follow Us on Telegram
 

 
 

Comments

Also read: बुर्केमें कैद नारीवादी आजादी ..

Kejriwal के हिंदू आबादी में Haj House बनाने के विरोध में 28 गांवों की खाप पंचायतें

Kejriwal के हिंदू आबादी में Haj House बनाने के विरोध में 28 गांवों की खाप पंचायतें
#Panchjanya #Kejriwal #DelhiHajhouse

Also read: पाकिस्तान के पोसे खालिस्तानी संगठन जड़ें जमा रहे अमेरिका में, हडसन इंस्टीट्यूट की रपट ..

हक्कानी से जान का खतरा जान, मुल्ला बरादर काबुल से गया कंधार
कंधार में तालिबान के विरुद्ध प्रचंड प्रदर्शन, सैन्य बस्तियां खाली करने के फरमान के विरोध में गर्वनर हाउस के बाहर जमा हुए हजारों लोग

बेटे से 'पाकिस्तान जिंदाबाद' का नारा लगवाने वाला गया जेल

  गुरुग्राम के सेक्टर 102 स्थित इंपीरियल गार्डन सोसायटी में अपने पांच साल के बेटे से 'पाकिस्तान जिंदाबाद' का नारा लगवाने वाले अनवर सैयद फैजुल्लाह को जेल भेज दिया गया है। उसकी पत्नी ने उसे बचाने के लिए कहा था कि वह मानसिक रूप से ठीक नहीं है, इसलिए उसने ऐसा किया था, लेकिन वह बात सही नहीं निकली।  गत दिनों गुरुग्राम (हरियाणा) में अपने बेटे से 'पाकिस्तान जिंदाबाद' का नारा लगवाने वाले सैयद फैजुल्लाह को जेल भेज दिया गया है। कुछ दिन पहले ही पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर न् ...

बेटे से 'पाकिस्तान जिंदाबाद' का नारा लगवाने वाला गया जेल