पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

भारत

सख्ती का असर: इंफोसिस ने दूर की नए आईटी पोर्टल की समस्या

WebdeskAug 23, 2021, 06:34 PM IST

सख्ती का असर: इंफोसिस ने दूर की नए आईटी पोर्टल की समस्या

 


आखिरकार सरकार की सख्ती का असर दिखा। आयकर विभाग के नए ई-फाइलिंग पोर्टल के गत दो दिनों से ‘अनुपलब्ध’ रहने के बीच इंफोसिस ने ट्वीट कर कहा समस्या का समाधान हो चुका है। अब पोर्टल रात नौ बजे से उपलब्ध रहेगा


इससे पहले वित्त मंत्रालय ने पोर्टल बनाने वाली कंपनी इंफोसिस के प्रबंध निदेशक एवं सीईओ सलिल पारेख को समन भेजकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के समक्ष सोमवार को उपस्थित होने को कहा है।


इंफोसिस इंडिया की बिजनेस यूनिट के ट्विटर हैंडल 'इंफासिस इंडिया बिजनेस' ने रविवार देर शाम को ट्वीट कर कहा कि आयकर विभाग के पोर्टल का आपात रखरखाव कार्य पूरा कर लिया गया है। अब यह पोर्टल 9 बजे से फिर से उपलब्ध है। करदाताओं को हुई इस असुविधा के लिए हमें खेद है।

गौरतलब है कि देश की प्रमुख सॉफ्टवेयर सर्विस कंपनी इंफोसिस द्वारा आयकर विभाग के आईटीआर दाखिल करने के लिए विकसित नए पोर्टल www.incometax.gov.in को 7 जून, 2021 को शुरू किया गया था। लेकिन, इस पोर्टल में शुरुआत से ही दिक्कतें आ रही हैं। यूजर्स लगातार इस बात की शिकायत कर रहे हैं कि या तो पोर्टल उपलब्ध नहीं है या बहुत धीमी रफ्तार से काम कर रहा है। वहीं, आयकर विभाग ने ट्वीट कर बताया कि पोर्टल शनिवार से ही उपलब्ध नहीं है।

उल्लेखनीय है कि आयकर विभाग की ई-फाइलिंग पोर्टल में लगातार आ रही दिक्कतों के बीच वित्त मंत्रालय ने पोर्टल बनाने वाली सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र की प्रमुख कंपनी इंफोसिस के एमडी एवं सीईओ सलिल पारेख को आज तलब किया है। पारेख को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के समक्ष उपस्थित होने को कहा गया है। उन्हें वित्त मंत्री को बताना होगा कि दो महीने बाद भी पोर्टल पर समस्याएं क्यों बनी हुई है और उनका समाधान क्यों नहीं हो पा रहा है।

 

Follow Us on Telegram
 

Comments

Also read: मोदी के नेतृत्व में दुनिया में गूंजा भारत का नाम ..

Kejriwal के हिंदू आबादी में Haj House बनाने के विरोध में 28 गांवों की खाप पंचायतें

Kejriwal के हिंदू आबादी में Haj House बनाने के विरोध में 28 गांवों की खाप पंचायतें
#Panchjanya #Kejriwal #DelhiHajhouse

Also read: हिन्दी दिवस पर विशेष: सबसे मीठी अपनी भाषा ..

शब्द संकोचन का शिकार बनती हिंदी
चंपावत में बन रहा विवेकानद स्मारक ध्यान केंद्र, स्वामी विवेकानंद ने किया था यहां प्रवास

कोरोना में भी कारगर साबित हुआ 'आयुष' -- राष्ट्रपति

उत्तर प्रदेश के प्रथम आयुष विश्वविद्यालय की आधारशिला राष्ट्रपति ने रखी. आयुष विश्वविद्यालय के शिलान्यास समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर को नियंत्रित करने में आयुष ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है.  महायोगी गुरु गोरखनाथ आयुष विश्वविद्यालय के शिलान्यास स्थल पर पहुंचकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सबसे पहले वैदिक मंत्रोच्चार के बीच भूमि पूजन कर आधारशिला रखी. राष्ट्रपति श्री कोविंद ने कहा कि वैदिक काल से हमारे यहां आरोग्य को सर्वाधिक महत्व दिया जाता रहा है. कि ...

कोरोना में भी कारगर साबित हुआ 'आयुष' -- राष्ट्रपति