पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

राज्य

विधायक ने ईसाई बन चुके महेश हेम्ब्रम के पैर छूकर उन्हें फिर से बनाया हिंदू

WebdeskAug 30, 2021, 01:02 PM IST

विधायक ने ईसाई बन चुके महेश हेम्ब्रम के पैर छूकर उन्हें फिर से बनाया हिंदू
हिंदू धर्म में वापस आने पर महेश हेम्ब्रम का हाथ जोड़कर स्वागत करते विधायक मनीष जायसवाल। दूसरे चित्र में वे उनके पैर छूते दिख रहे हैं।


हजारीबाग के विधायक मनीष जायसवाल ने लोभ—लालच से हिंदुओं को ईसाई बनाने वालों के विरुद्ध संघर्ष करने की घोषणा की है। इसके साथ ही उन्होंने ईसाई बन चुके महेश हेम्ब्रम को फिर से हिंदू बनने के लिए राजी किया। जब महेश फिर से हिंदू बने तो विधायक ने उनके पैर छूकर उनका स्वागत किया
 



—वेब डेस्क
 

इन दिनों झारखंड के हजारीबाग में कन्वर्जन करने वाले ईसाई मिशनरियों के विरुद्ध लोगों में जबर्दस्त उबाल दिख रहा है। स्थानीय विधायक मनीष जायसवाल ने कन्वर्जन करने वालों के विरुद्ध आवाज उठाई है। गत दिनों मनीष जायसवाल ने दिग्वार पंचायत के चानो खुर्द गांव में महेश हेम्ब्रम नामक एक व्यक्ति के पैर छुए और उनसे आग्रह किया कि वे हिंदू ही रहें। इसके साथ ही उन्होंने महेश के गले से सलीब उतार दिया।

बता दें कि कोरोना काल के दौरान इस क्षेत्र में बड़ी संख्या में लोगों को लोभ—लालच से ईसाई बनाया गया है। महेश हेम्ब्रम को भी कुछ दिन पहले ही ईसाई बनाया गया था। उस दिन मनीष अपने क्षेत्र के दौरे पर थे और उन्होंने इसी दौरान कन्वर्जन करने वालों के विरुद्ध हुंकार भरते हुए कहा कि किसी को भी लोभ—लालच से ईसाई बनाया जाएगा तो उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मनीष जायसवाल ने बताया कि कन्वर्जन के मूल में दारू प्रखंड स्थित पिपचो मिशन स्कूल है। उन्होंने यह भी बताया कि इस समय स्कूल में केरल की 12 शिक्षिकाएं हैं और लगभग 400 बच्चे हैं। इन्हीं शिक्षिकाओं के जरिए पूरे क्षेत्र में कन्वर्जन का काम किया जा रहा है। मनीष ने यह भी बताया कि जब से हेमंत सोरेन की सरकार बनी है, तब से झारखंड में ईसाई मिशनरियां बेलगाम हो चुकी हैं। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि मिशनरियों को राज्य सरकार का समर्थन मिल रहा है।  

        मनीष जायसवाल से पहले ईसाई मिशनरियों के विरुद्ध बोलने की हिम्मत 75 वर्षीया मंझली मरांडी ने दिखाई थी। उल्लेखनीय है कि मंझली मरांडी के दो बेटे हैं—बादल मरांडी और मोहन मरांडी। लगभग 18 महीने पहले लोभ देकर इन दोनों को ईसाई बना दिया गया था। इसके बाद मंझली मरांडी पर भी ईसाई बनने का दबाव डाला जा रहा था। दबाव से परेशान मंझली मरांडी ने पिछले दिनों ईसाई मिशनरियों को फटकार लगाते हुए कहा था, ''मैं जन्म से हिंदू हूं और अंतिम सांस तक हिंदू ही रहूूंगी। बजरंग बली हमारे देवता हैं।'' उन्होंने यह भी कहा था, ''हम अपना धर्म स्वयं तय नहीं कर सकते। भगवान ने हमें हिंदू धर्म में जन्म दिया है, तो हम आजीवन हिंदू ही रहेंगे। मुझे मेरे धर्म से कोई डिगा नहीं सकता। लोभ में पड़कर किसी को भी अपना धर्म नहीं बदलना चाहिए।'' उनकी इस दृढ़ता के सामने उनके दोनों बेटे झुक गए और पुन: हिंदू बन गए हैं। अब लोग मंझली मरांडी को आदर्श मानने लगे हैं और जो लोग ईसाई बन चुके हैं, वे फिर से हिंदू बन रहे हैं।
 

Follow us on:
 

Comments
user profile image
Anonymous
on Sep 06 2021 10:09:07

सराहनीय कार्य

user profile image
Anonymous
on Aug 31 2021 07:46:46

सराहनीय पहल 🙏🙏

user profile image
Anonymous
on Aug 30 2021 20:52:27

हिंदू धरमाचाॅरीओए और साधु संतोको जनताके बीच जाकर अपना सनातन धरमकी रक्षाके लिए जागृत करना चाहिए

user profile image
अरुण कुमार शुक्ल
on Aug 30 2021 13:54:44

अति श्रेष्ठ कार्य। विधायक जी को कोटिश: प्रणाम 🙏

Also read: ईसाई न बनने पर छोटे भाई ने बड़े भाई को घर से किया बाहर ..

Kejriwal के हिंदू आबादी में Haj House बनाने के विरोध में 28 गांवों की खाप पंचायतें

Kejriwal के हिंदू आबादी में Haj House बनाने के विरोध में 28 गांवों की खाप पंचायतें
#Panchjanya #Kejriwal #DelhiHajhouse

Also read: झारखंड से योजनाओं का शुभारंभ करने वाले कर्मयोगी ..

बेरोजगारी में सड़कों के गड्ढे गिन रहीं है  मायावती--- सुरेश खन्ना
टिकट चाहिए तो भरिये फार्म, दीजिये 11 हजार का शगुन, कांग्रेस हाई कमान का गजब आदेश

यूपी—दिल्ली में पकड़े गए आतंकियों के घरों तक पहुंची जांच एजेंसियां

पश्चिम उत्तर प्रदेश डेस्क दिल्ली एवं उत्तर प्रदेश से आतंकियों के पकड़े जाने के बाद जांच एजेंसियां आतंकियों के घरों तक पहुंच रही हैं। इसी कड़ी में अमरोहा स्थित गजरौला इलाके के खालीपुर और खुगावली गांवों में सुरक्षा एजेंसियों द्वारा जानकारी जुटाने की खबरे हैं। दिल्ली एवं उत्तर प्रदेश से आतंकियों के पकड़े जाने के बाद जांच एजेंसियां आतंकियों के घरों तक पहुंच रही हैं। इसी कड़ी में अमरोहा स्थित गजरौला इलाके के खालीपुर और खुगावली गांवों में सुरक्षा एजेंसियों द्वारा जानकारी जुटाने की खबरे हैं ...

यूपी—दिल्ली में पकड़े गए आतंकियों के घरों तक पहुंची जांच एजेंसियां