पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

राज्य

लव जिहाद: दीक्षा को मार डालने वाले इमरान को पुलिस ने दबोचा, हत्या का मामला दर्ज

WebdeskAug 19, 2021, 12:18 PM IST

लव जिहाद: दीक्षा को मार डालने वाले इमरान को पुलिस ने दबोचा, हत्या का मामला दर्ज


नोएडा की रहने वाली दीक्षा, जिसे ऋषभ समझ कर प्यार कर रही थी, असल में वह इमरान निकला। इमरान ने दीक्षा को अपनी हवस का शिकार बनाया। उसके बाद जहर देकर मार डाला और नैनीताल से फरार हो गया। अब नैनीताल पुलिस ने 36 घण्टे के अंदर आरोपी को पकड़कर जेल भेज दिया


नोएडा की रहने वाली युवती दीक्षा मिश्रा, जिसे ऋषभ समझ कर प्यार कर रही थी, असल में वह इमरान निकला। पहले दीक्षा को उसने अपनी हवस का शिकार बनाया। उसके बाद में जहर देकर मार डाला और नैनीताल से फरार हो गया। अब नैनीताल पुलिस ने 36 घण्टे के अंदर आरोपी इमरान को पकड़कर जेल भेज दिया है। नैनीताल पुलिस जब इमरान को कोर्ट में पेश करने ले जा रही थी, तो गुस्साई भीड़ ने इमरान पर हमला बोल दिया। पुलिस ने किसी तरह उसे बचाकर कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।


दरअसल, नैनीताल के एक होटल में 14-15 अगस्त की रात दीक्षा मिश्रा की हत्या कर इमरान फरार हो गया था। पुलिस को शुरुआती जांच में पता चला कि दीक्षा अपने दोस्त ऋषभ, श्वेता शर्मा और अलमास के साथ अपना जन्मदिन मनाने नोएडा से नैनीताल आयी थी। रात को एक कमरे में पार्टी हुई। श्वेता और अलमास दूसरे कमरे में चले गए। सुबह दीक्षा के कमरे का  दरवाजा नहीं खुला तो स्टाफ से खुलवाया गया।  

 

इस दौरान दीक्षा का शव संदिग्ध अवस्था में पड़ा मिला और ऋषभ फरार हो चुका था। पूछताछ में यह पता चला कि फरार व्यक्ति गाजियाबाद निवासी ऋषभ नहीं बल्कि इमरान पुत्र इस्तेबेजमुद्दीन है। मृतका दीक्षा की दोस्त श्वेता की तरफ से पुलिस में तहरीर दी गयी है। बताया गया कि इमरान गाजियाबाद में होरिजन होम्स चलाता है।


एसपी (क्राइम) देवेन्द्र पींचा के मुताबिक इमरान को नोएडा से गिरफ्तार किया गया है। इमरान ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। पुलिस ने शव का पोस्टमॉर्टम करवाया और 302 का मामला दर्ज किया है।


Follow Us on Telegram
 

Comments
user profile image
Anonymous
on Aug 21 2021 06:38:01

जेहादियों को सीधे गोली मारी जाए इनको जेलों में ना पालें

Also read: मौलाना कलीम के खिलाफ नितिन पंत ने दी तहरीर, कन्वर्ट करके बनाया था अली हसन ..

टेलीकास्ट दोहराएं: एक नरसंहार को स्वतंत्रता का संघर्ष बताने के ऐतिहासिक झूठ से हटेगा पर्दा।

टेलीकास्ट दोहराएं: एक नरसंहार को स्वतंत्रता का संघर्ष बताने के ऐतिहासिक झूठ से हटेगा पर्दा। सुनिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और मा. जे. नंदकुमार को कल सुबह 10 बजे और सायं 5 बजे , फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब समेत अन्य सोशल मीडिया मंच पर।

Also read: चन्नी की सरकार में सिद्धू हैं ‘सरदार’ ..

पंजाब में ही नहीं देश को है 'क्रिप्टो कांग्रेस' से खतरा
दिल्ली दंगा: तीन मामलों में छह आरोपितों-मुहम्मद,परवेज,अशरफ,सोनू,जावेद और आरिफ के खिलाफ कोर्ट ने तय किए आरोप

रुड़की में पकड़ा गया था पाकिस्तानी जासूस,नैनीताल हाई कोर्ट ने सुनाई 7 साल की सजा

उत्तराखंड ब्यूरो   नैनीताल हाई कोर्ट ने 2012 में पकड़े गए आबिद अली को 7 साल की सजा सुनाई है। आबिद अली पाकिस्तानी नागरिक है, जिसे खुफिया एजेंसियों ने गिरफ्तार किया था। नैनीताल हाई कोर्ट ने 2012 में पकड़े गए आबिद अली को 7 साल की सजा सुनाई है। आबिद अली पाकिस्तानी नागरिक है, जिसे खुफिया एजेंसियों ने गिरफ्तार किया था। जानकारी के मुताबिक आबिद पाकिस्तानी नागरिक था। फ़र्ज़ी दस्तावेजों के आधार पर रुड़की में रह रहा था। उसने यहीं की एक महिला को प्रेम जाल में फंसाकर शादी कर ली। इसी सबके बीच ...

रुड़की में पकड़ा गया था पाकिस्तानी जासूस,नैनीताल हाई कोर्ट ने सुनाई 7 साल की सजा